IPL-16: से पहले RCB पोडकास्ट में दिनेश कार्तिक ने MS धोनी को बताई ‘बर्बाद’ होने की वजह!

IPL-16धोनी की वजह से मेरा करियर बर्बाद हो गया या शायद मैं वो नहीं कर पाया जो कर सकता था। कुछ ऐसे ही अल्फाज़ गए हैं (IPL-16) टीम इंडिया के विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक ने जो कि 2022 टी 20 वर्ल्ड कप के बाद से इंटरनेशनल क्रिकेट से दूर हैं, टीम इंडिया से बाहर चल रहे हैं। दिनेश कार्तिक ने आइपीएल सीज़न 16 से पहले कुछ बड़े खुलासे किए और बताया कि आखिर क्यों महेंद्र सिंह धोनी से सीनियर होने के बावजूद महेंद्र सिंह धोनी से पहले इंटरनेशनल क्रिकेट में अच्छा डेब्यू करने के बावजूद टीम इंडिया में धोनी को तरजीह दी गई। आखिर क्यों दिनेश कार्तिक को वो करने का मौका नहीं मिल पाया जो धोनी से पहले खेलने के बावजूद वो कर सकते थे? तो आखिर क्या है? दिनेश कार्तिक का धोनी को लेकर खुलासा, अपने करियर को लेकर खुलासा, क्या कहा है दिनेश कार्तिक ने, जानने के लिए देखिये हमारी ये न्यूज़।

टीम इंडिया से बाहर चल रहे विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक ने महेंद्र सिंह धोनी को लेकर बड़ा दावा किया है। दरअसल दिनेश कार्तिक ने उस वजह का खुलासा किया है, जिसके चलते 2004 में धोनी से पहले ही अपना इंटरनेशनल डेब्यू करने के बावजूद दिनेश कार्तिक इंटरनेशनल क्रिकेट में टीम इंडिया के लिए उतने मैच नहीं खेल पाए जितना कि उन्हें उम्मीद थी। आईपीएल सीज़न 16 से पहले रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के पॉडकास्ट में दिनेश कार्तिक ने खुद को अनलकी बताया है। कार्तिक मानते हैं कि धोनी के दौर में क्रिकेट खेलना उनके करियर को उचाई नहीं दे पाया जो शायद किसी और विकेटकीपर के साथ होने वाले कॉम्पिटिशन में मुमकिन हो सकता था। कार्तिक के मुताबिक इंटरनेशनल क्रिकेट में धोनी की एंट्री किसी तूफान की तरह हुई थी। मैंने उनसे पहले डेब्यू किया था।

हम इंडिया के दौरे पर एक साथ गए और वहाँ से मुझे भारतीय टीम में चुन लिया गया। मैंने इतना अच्छा प्रदर्शन किया कि उन्होंने मुझे भारतीय टीम के लिए चुन लिया लेकिन वहाँ से तस्वीर बदली और एक वनडे टूर्नामेंट में एमएस धोनी का तूफानी प्रदर्शन देखने को मिला जहाँ उन्होंने चौकों और छक्कों के साथ विस्फोट किया। दुनिया अभी भी कुछ इस तरह की क्रिकेट के लिए तैयार नहीं थी। वैसे यह साफ कर दें कि दिनेश कार्तिक ने धोनी पर उन्हें टीम इंडिया से बाहर करने के आरोप नहीं लगाए है। बल्कि कार्तिक तो इस बात को मानते हैं कि धोनी का कद और खेल का स्तर ऐसा था, जिसके सामने कोई भी विकल्प कभी भी सिलेक्टर्स को नजर ही नहीं आया। ये भी एक संयोग है कि 2007 में जिस टी 20 वर्ल्ड कप में धोनी बतौर कप्तान अपना डेब्यू कर रहे थे। उसी वर्ल्ड कप की टीम में भी दिनेश कार्तिक शामिल थे।

धोनी की कप्तानी में भी कई मौकों पर दिनेश कार्तिक को बतौर बैकअप विकेटकीपर या स्पेशलिस्ट बल्लेबाज टीम में खेलने का मौका मिला। लेकिन धोनी के कद और खेल के सामने कार्तिक की पहचान हमेशा धुंधली ही रही। धोनी का कद इतना बड़ा था कि आपको उन्हें चुनना ही बड़ा था। इसके बाद उन्होंने सभी फॉर्मेट्स में मेरी जगह ली और उन्होंने काफी अच्छा प्रदर्शन किया और अंत में यह केवल अवसर लेने की बात होती है। हालांकि इसे दिनेश कार्तिक के जज्बे की जीती कहा जा सकता है की 2004 में अपना इंटरनेशनल डेब्यू करने के बाद भी वो 2022 में खेले गए पिछले टी 20 वर्ल्ड कप तक टीम इंडिया के साथ जैसे तैसे खेलते रहे। इन 18 सालों में कई बार टीम इंडिया से उन्हें ड्रॉप किया गया, लेकिन कार्तिक ने कभी हार नहीं मानी।दिनेश कार्तिक ने टीम इंडिया के लिए खेले इन्टरनैशनल कैरिअर में।

26 टेस्ट, 94 वनडे और सात टी 20 इंटर्नैशनल मैच खेले हैं। वहीं आईपीएल 2008 के पहले सीज़न से दिनेश कार्तिक अब तक अलग अलग फ्रैन्चाइज़ी के लिए 229 मैच खेल चूके हैं। अड़तीस साल के हो चूके दिनेश कार्तिक से टीम इंडिया के लिए टी 20 वर्ल्ड कप में एक अच्छे फिनिशर का रोल निभाने की उम्मीद थी। लेकिन बदकिस्मती से कार्तिक उस मौके को नहीं भुना पाए और तभी से वो टीम इंडिया से बाहर चल रहे हैं। कार्तिक ने टीम इंडिया के लिए आखिरी वनडे मैच जुलाई 2019 में न्यूजीलैंड के खिलाफ़ वनडे वर्ल्ड कप में खेला था।उस वर्ल्ड कप में धोनी भी टीम इंडिया का हिस्सा थे। इसी बीच ऋषभ पंत के घायल होने के बाद अब दिनेश कार्तिक के लिए एक बार फिर टीम इंडिया की वनडे टीम या फिर वंडर वर्ल्ड कप 2023 के लिए कमबैक की उम्मीदें जग चुकी है। हालांकि इसके लिए दिनेश कार्तिक को आइपीएल सीज़न 16 में एक बार फिर क्रिकेट फैन्स का दिल जीतना होगा। सीज़न 15 की ही तरह दिनेश कार्तिक आईपीएल के सीज़न 16 में भी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए खेलते हुए नज़र आएँगे।

यह भी पढ़ें: IPL 16 को लेकर हुई सबसे बड़ी भविष्यवाणी, SKY, Umran को स्पेशल 5 में चुना, Sourav Ganguly का बयान

Related Articles

Back to top button