हिंदी न्यूज़

सोशल मीडिया: आने वाले समय में वाट्सएप कॉल के लिए भी, देना पड़ सकता है बिल

whatsapp-newsआप सब के पास स्मार्टफोन है और ज़ाहिर सी बात है की उसमें सोशल मीडिया, वॉट्सैप भी होगा जिसे आप अक्सर कॉल भी कर लेते हैं। अभी तक वॉट्सऐप, फेसबुक मेसेंजर या फिर किसी और कॉलिंग ऐप्स के जरिए फ्री में कॉलिंग आप कर पा रहे थे लेकिन आने वाले समय में ये खत्म हो सकता है ऐसा क्यों? आइए समझते हैं। दरअसल, सरकार वॉट्सऐप, फेसबुक, गूगल डुओ और टेलीग्राम जैसे कॉलिंग ऐप्स और मेसेजिंग ऐप्स को टेलीकॉम कानून के दायरे में लाने की तैयारी कर रही है।इस संबंध में एक ड्राफ्ट बिल भी तैयार किया जा चुका है और टेलीकॉम मंत्री अश्विनी की मानें तो छह से 10 महीने में इसे पेश किया जा सकता है।

यहाँ आपको बता दें कि केंद्र सरकार नए टेलिकम्यूनिकेशन्स बिल 2022 पर काम कर रही है और इस बिल में सोशल मीडिया ऐप्स और इंटरनेट आधारित कॉलिंग ऐप्स को भी कानून के तहत लाने की प्लानिंग चल रही है। अभी तक इंटरनेट कॉलिंग ऐप्स जैसे कि वॉट्सऐप और फेसबुक मेसेंजर बिना लाइसेंस के एक काम कर रहे थे, लेकिन नए बिल के आने के बाद इन्हें भी लाइसेंस लेना होगा। नए बिल के आने के बाद वॉट्सऐप, फेसबुक, गूगल, डुओ और टेलीग्राम जैसे ऐप्स को सरकार से लाइसेंस लेना होगा। और इसके लिए फीस भी लिए जाने का प्लैन है।हालांकि सरकार चाहे तो लाइसेंस फीस को माफ़ कर सकती है।

हालांकि लाइसेंस फीस कितनी होगी अभी इस पर कोई जानकारी नहीं मिली है। अब बिज़नेस को समझिये तो अगर कारोबारी को हुआ अपनी सेवाओं के लिए पैसे देने पड़ेंगे तो वो उसकी भरपाई अपने ग्राहकों से ही करेगा। यही कारण है कि अब वॉट्सऐप, फेसबुक, गूगल डुओ और टेलीग्राम जैसे ऐप्स के मामले में ऐसा हो सकता है कि आपको कॉलिंग के लिए या फिर वीडियो कॉलिंग के लिए पैसे देने पड़ सकते हैं। आप इन्टरनेट के लिए अलग से पैसे तो खर्च कर ही रहे हैं,और आने वाले समय में इंटरनेट से कॉलिंग के लिए भी आपको अलग से पैसे देने पड़ सकते हैं।

यहाँ भी पढ़ें: धोनी के कारण दिनेश कार्तिक को नहीं मिल पाया था मौका, अब ऋषभ पंत को करना पड़ेगा इंतजार

Related Articles

Back to top button